NDLI PROJECT WEBSITE

लॉकडाउन के बीच NDLI की पहल, घर से पढ़ाई करने में इस तरह हो रही स्‍टूडेंट्स की मदद

लॉकडाउन के बाद से मंत्रालय ने  NDLI के 3.5 करोड़ कॉन्‍टेंट में से 78 लाख कॉन्‍टेंट के लिए फ्री एक्‍सेस दिया है, जबकि पूरे कॉन्‍टेंट के लिए स्‍टूडेंट्स को रज‍िस्‍टर कराना होगा.

लॉकडाउन के बीच NDLI की पहल, घर से पढ़ाई करने में इस तरह हो रही स्‍टूडेंट्स की मदद

एनडीएलआई का ये कॉन्‍टेंट उसके मोबाइल ऐप और ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्‍ध है.

नई दिल्ली:

लॉकडाउन के चलते सभी शैक्षणिक संस्‍थान बंद हैं. ऐसे में राष्ट्रीय डिजिटल लाइब्रेरी (NDLI) अपने साढ़े तीन करोड़ अकादम‍िक कॉन्‍ट्रेंट के जरिए छात्र-छात्राओं तक पहुंच बना रही है, ताकि वे घर पर रहकर पढ़ाई कर सकें. इस बात की जानकरी  NDLI के प्रवक्‍ता ने गुरुवार को दी.

प्रवक्‍ता के मुताबिक, "इस कॉन्‍टेंट को स्‍टूडेंट  NDLI की मोबाइल ऐप और ऑनलाइन पोर्टल  www.ndl.gov.in के "कोरोना आउटब्रेक: स्‍टडी फ्रॉम होम" सेक्‍शन से एक्‍सेस कर सकते हैं." 

उन्‍होंने कहा कि लॉकडाउन के बाद से मंत्रालय ने  NDLI के 3.5 करोड़ कॉन्‍टेंट में से 78 लाख कॉन्‍टेंट के लिए फ्री एक्‍सेस दिया है, जबकि पूरे कॉन्‍टेंट के लिए स्‍टूडेंट्स को रज‍िस्‍टर कराना होगा.

लाइब्रेरी का ये डिजिटल कॉन्‍टेंट ई-बुक्‍स, ऑडियोबुक्‍स, लेक्‍चर मटीरियरल, इंजीन‍ियर‍िंग, साइंस, मैनेजमेंट, आर्ट व लॉ स्‍ट्रीम में वीडियो लेक्‍चर के रूप में उपलब्‍ध है. 

आईआईटी खड़गपुर के निदेशक प्रोफेसर पीपी चक्रवर्ती ने कहा कि हम इसी के साथ दूसरे संस्‍थानों के फैकल्‍टी सदस्‍यों से अपील कर रहे हैं है कि वे भी स्‍टूडेंट्स की भलाई के लिए NDLI को नई अध्‍ययन सामग्री मुहैया कराएं.

उन्‍होंने बताया कि NDLI की इस पहल को सकारात्‍मक प्रतिक्रिया मिली है और बड़ी मात्रा में नई अध्‍ययन सामग्री भी प्राप्‍त हुई है.

गौरतलब है कि राष्‍ट्रीय शिक्षा मिशन के तत्‍वावधान में भारतीय राष्‍ट्रीय डिजिटल लाइब्रेरी मानव संसाधन विकास मंत्रालय की एक परियोजना है. NDLI का लक्ष्‍य देश के सभी नागरिकों को डिजिटल शिक्षण संसाधन उपलब्‍ध कराना है तथा ज्ञान प्राप्ति के लिए उन्‍हें सशक्‍त, प्रेरित और प्रोत्‍साहित करना है. आईआईटी खड़गपुर ने भारतीय राष्‍ट्रीय डिजिटल लाइब्रेरी को विकसित किया है.

 

https://khabar.ndtv.com/news/career/ndli-reaches-out-to-students-amid-lockdown-2225036